दुर्घटना में दोनों पायलट सहित कुल18 लोगों के मारे जाने की खबर है.

राज्य

दुर्घटना में दोनों पायलट सहित कुल18 लोगों के मारे जाने की खबर है.

कोझिकोड एयरपोर्ट के टेबल टॉप रनवे पर फिसल गया था.

एयर इंडिया एक्सप्रेस के इस विमान (IX-1344) में 190 यात्री सवार थे. फिलहाल सभी यात्रियों को कोझिकोड और मामल्लपुरम के अस्पातलों में भर्ती करवाया गया है. घटना इतनी भयावह थी कि पूरा विमान दो हिस्सों में टूट गया.
इस बीच विदेश राज्यमंत्री वी मुरलीधरन ने भी क्रैश की साइट पर जाकर मुआयना किया है. एयर इंडिया एक्सप्रेस ने बताया कि दिल्ली और मुंबई से एक-एक स्पेशल रिलीफ फ्लाइट का यात्रियों और उनके परिवार वालों की मानवीय मदद करने के लिए प्रबंध किया गया है. AAIB, DGCA और फ्लाइट सेफ्टी डिपार्टमेंट दुर्घटना की जांच करने के लिए मौके पर पहुंच चुके हैं.

बातचीत में एक अधिकारी ने बताया, “कई घंटो से बारिश हो रही थी. फ्लाइट ने एयरपोर्ट के आसपास दो चक्कर लगाए और इसके बाद लैंडिंग की कोशिश की थी. किस्मत से विमान में आग नहीं लगी. हमने तुरंत स्थानीय लोगों के साथ मिलकर राहत कार्य शुरू कर दिए थे.”

विमान में जान गंवाने वाले पायलट दीपक वसंत साठे इंडियन एयरफोर्स के पूर्व विंग कमांडर थे. उन्होंने एयरफोर्स की फ्लाइट टेस्टिंग विंग के साथ भी सर्विस की थी. वसंत साठे के साथ को-पायलट अखिलेश कुमार की भी मौत हो गई है.

इस दर्दनाक घटना को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, कांग्रेस नेता राहुल गांधी, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह समेत तमाम बड़े नेताओं ने दुख जताया है.
वहीं अमेरिकी राजदूत केन जस्टर ने कहा, “हम कोझिकोड में एयर इंडिया विमान के एक्सीडेंट से बहुत दुखी हैं. जो लोग इस दुर्घटना में पीड़ित हैं, हमारी प्रार्थनाएं और संवेदनाएं उन लोगों और उनके परिवार वालों के साथ हैं.”

Share News