मथुरा के गोवर्धन कस्बे के गिरिराज बाग के पीछे जंगल में बने आश्रम में तीन साधुओं के साथ जहरखुरानी का मामला सामने आया

मथुरा :

मथुरा के गोवर्धन कस्बे के गिरिराज बाग के पीछे जंगल में बने आश्रम में तीन साधुओं के साथ जहरखुरानी का मामला सामने आया है. जहां दो साधुओं की मौके पर ही मौत हो गई वहीं एक साधु को गंभीर अवस्था में जिला अस्पताल रेफर किया गया है.
गोवर्धन के गिरिराज बाग के पीछे एक आश्रम में तीन साधु पिछले एक साल से भजन साधना कर रहे थे लेकिन शनिवार सुबह करीब 10 बजे आश्रम में दो साधुओं की मौत की सूचना मिली, जिससे गोवर्धन क्षेत्र में सनसनी फैल गई.
घटना की सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया. थानाध्यक्ष प्रदीप कुमार फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे. पुलिस ने दो मृतक साधु गोपाल दास और श्याम सुंदर दास के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. जबकि रामबाबू दास को गंभीर अवस्था में जिला अस्पताल रेफर कर दिया. जहां उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है.
मृतक साधु गोपाल दास के भाई टीकम ने बताया कि साधुओं की जहर देकर हत्या की गई है. आश्रम में जहरीली दवाइयों की बदबू आ रही है. इस संबंध में स्थानीय पुलिस चाय में कुछ विषेला पदार्थ मिलाकर देने की बात कह रही है. जिलाधिकारी और एसएसपी ने भी मौके पर पहुंचकर घटना स्थल का निरीक्षण किया.
जिलाधिकारी सर्वज्ञ राम मिश्रा ने घटना पर कहा, ‘आज सुबह यहां पर जानकारी मिली कि 2 साधुओं की मौत हो गई है. एक की तबीयत खराब है. हमने और एसएसपी ने स्थलीय निरीक्षण किया है, जिन 2 साधुओं की मौत हुई है उनकी बॉडी पोस्टमार्टम के लिए भेजी गई है. एक साधु का डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में इलाज चल रहा है. वह स्वस्थ हैं. उनसे जानकारी हासिल की जा रही है. पूछताछ की जा रही है. मामले में जांच कराई जा रही है.’