भारतीय अर्थव्यवस्था में सुधार नजर आ रहा है

देश

दिल्ली :

भारतीय अर्थव्यवस्था में सुधार नजर आ रहा है। जीएसटी कलेक्शन लगातार दूसरे महीने एक लाख करोड़ रुपये से अधिक रहा। वित्त मंत्रालय के जारी आंकड़ों के मुताबिक नवंबर में जीएसटी कलेक्शन 1,04,963 रुपये रहा। माल एवं सेवा कर (GST) संग्रह का आंकड़ा अक्टूबर में 1.05 लाख करोड़ रुपये रहा था है। फरवरी के बाद पहली बार जीएसटी संग्रह का आंकड़ा अक्टूबर में एक लाख करोड़ रुपये के पार गया और अब नवंबर में लगातार दूसरे महीने यह आंकड़ा एक लाख करोड़ के पार रहा।

नवंबर, 2020 में कुल जीएसटी राजस्व 1,04,963 करोड़ रुपये रहा है। इसमें केंद्रीय जीएसटी 19,189 करोड़ रुपये, राज्य जीएसटी 25,540 करोड़ रुपये और एकीकृत जीएसटी 51,992 करोड़ रुपये है (इसमें से 22,078 करोड़ रुपये वस्तुओं के आयात पर जुटाए गए हैं)। इसमें उपकर का योगदान 8,242 करोड़ रुपये (वस्तुओं के आयात पर जुटाए गए 809 करोड़ रुपये शामिल) का रहा है।

★ अक्टूबर महीने की तुलना में आई मामूली गिरावट

सरकार का माल एवं सेवा कर (जीएसटी) संग्रह नवंबर में 1.04 लाख करोड़ रुपये रहा है। हालांकि, अक्टूबर की तुलना में जीएसटी राजस्व का आंकड़ा मामूली घटा है। अक्टूबर में यह 1.05 लाख करोड़ रुपये रहा था। नवंबर में जीएसटी संग्रह पिछले साल के समान महीने से 1.4 प्रतिशत अधिक है। नवंबर, 2019 में जीएसटी संग्रह 1,03,491 करोड़ रुपये रहा था।

★ पिछले साल की तुलना में अधिक रहा कलेक्शन

समीक्षाधीन महीने में वस्तुओं के आयात से राजस्व पिछले साल के समान महीने की तुलना में 4.9 प्रतिशत अधिक रहा। वहीं घरेलू लेनदेन से राजस्व पिछले साल के समान महीने से 0.5 प्रतिशत अधिक रहा है। 

★ कोरोना की वजह से प्रभावित हुआ था कलेक्शन

बीते वित्त वर्ष 2019-20 में 12 में से आठ महीनों में जीएसटी राजस्व एक लाख करोड़ रुपये से अधिक रहा था। हालांकि, चालू वित्त वर्ष में कोरोना वायरस महामारी की वजह से लगाए गए लॉकडाउन से जीएसटी राजस्व प्रभावित हुआ है।