मुख्यमंत्री योगी ने आज अपने सरकारी आवास पर रीजनल रैपिड ट्रांजिट सिस्टम परियोजना के कार्यों की प्रगति की समीक्षा किये

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रीजनल रैपिड ट्रांजिट सिस्टम (आर0आर0टी0एस0) परियोजना के तहत दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ कॉरिडोर के कार्यों को तेजी से संचालित करने के लिए निर्देश दिए हैं। उन्होंने आवास एवं शहरी नियोजन, सिंचाई, राजस्व, परिवहन, औद्योगिक विकास आदि विभागों को परियोजना के निर्माण कार्यों के सम्बन्ध में अन्तर्विभागीय समन्वय से शीघ्र कार्यवाही करने के निर्देश दिए।
मुख्यमंत्री जी आज यहां अपने सरकारी आवास पर रीजनल रैपिड ट्रांजिट सिस्टम परियोजना के कार्यों की प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि इण्टर ऑपरेबल कॉरिडोर और मल्टी मॉडल इण्टीग्रेशन के दृष्टिगत निर्माण कार्यों में तेजी लायी जाए, जिससे आमजन को इस सुविधा का लाभ शीघ्रता से उपलब्ध हो। आर0आर0टी0एस0 रेल सेवा तेज गति, उच्च क्षमता, आरामदायक व सुरक्षित होगी। यह ट्रैफिक जाम से निजात दिलाएगी। साथ ही, ऊर्जा उपभोग और प्रदूषण को कम करने में भी सहायक होगी।
इस अवसर पर अधिकारियों ने मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया कि दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ कॉरिडोर का कार्य प्रगति पर है। 82.15 कि0मी0 लम्बाई की इस परियोजना की कुल लागत 30,274 करोड़ रुपए है। आर0आर0टी0एस0 परियोजना के तहत मेरठ में मेट्रो सेवाओं का संचालन किया जाएगा। गाजियाबाद में मल्टीमोडल एकीकरण सम्बन्धी कार्यों पर कार्यवाही की जा रही है। कार्यों की प्रगति के सम्बन्ध में निरन्तर समीक्षा की जा रही है।
बैठक के दौरान अपर मुख्य सचिव वित्त श्रीमती एस0 राधा चौहान, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री श्री एस0पी0 गोयल, अपर मुख्य सचिव अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास श्री अरविन्द कुमार, अपर मुख्य सचिव सिंचाई श्री टी0 वेंकटेश, प्रमुख सचिव आवास एवं शहरी नियोजन श्री दीपक कुमार, प्रमुख सचिव परिवहन श्री राजेश कुमार सिंह, सचिव मुख्यमंत्री श्री आलोक कुमार सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
2,812FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles