मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुस्तक ‘द रियल मोदी’ के हिन्दी, अंग्रेजी व गुजराती संस्करणों का किया विमोचन ।


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा है कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के कुशल नेतृत्व में भारत पूरी दुनिया में नई ताकत के रूप में उभर रहा है। भारत और उत्तर प्रदेश में उल्लेखनीय उपलब्धियां हासिल हुई हैं। वैश्विक मंच पर भारत की प्रतिष्ठा बढ़ी है। प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में गांव, गरीब, किसान, नौजवान, महिलाओं सहित समाज के विभिन्न वर्गों के लिए जनकल्याणकारी योजनाओं के परिणाम दिखायी देने लगे हैं। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रधानमंत्री जी के परिश्रम, प्रयासों और विजन के अनुरूप हम सभी को ईमानदारी के साथ अपने कर्तव्यों का निर्वहन करना होगा। यह हम सभी की जिम्मेदारी है, जिससे प्रदेश व देश तेजी से विकास के रास्ते पर आगे बढ़ सके।
मुख्यमंत्री जी आज यहां अपने सरकारी आवास पर ‘इण्डिया न्यूज’ समाचार चैनल द्वारा आयोजित ‘4 साल बेमिसाल’ कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश देश का सबसे बड़ा राज्य है। यहां 24 करोड़ की आबादी निवास करती है। आबादी के हिसाब से संसाधन और इन्फ्रास्ट्रक्चर विकसित करने के उद्देश्य से वित्तीय वर्ष 2021-22 के बजट का आकार 5.50 लाख करोड़ रुपए से अधिक का रखा गया और भावी योजनाओं का खाका प्रस्तुत किया गया। इन योजनाओं के क्रियान्वयन पर तेजी से कार्यवाही की जाएगी। अवस्थापना सुविधाओं और विकास के दृष्टिगत बजट का आकार बढ़ने से लोगों में विश्वास की भावना दिखायी दे रही है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि गांव, गरीब, नौजवान, श्रमिक, किसान व महिलाओं के उत्थान व कल्याण के उद्देश्य से बजट में प्राविधान किए गए हैं। अवस्थापना सुविधाओं व विकास पर पूरा फोकस किया गया है। कोविड-19 के बावजूद बजट का आकार बढ़ाते हुए फिजूलखर्ची और भ्रष्टाचार पर प्रहार करते हुए वित्तीय अनुशासन स्थापित किया गया है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2020 में वैश्विक महामारी कोविड-19 से प्रभावित होने के बावजूद विकास की गति अब पूर्व की भांति फिर से बढ़ने लगी है। प्रधानमंत्री जी की मंशा के अनुरूप उत्तर प्रदेश को 01 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था के साथ-साथ यह बजट विकास और भावी योजनाओं को मूर्तरूप प्रदान करने में सक्षम है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि वर्ष 2020 में कोविड-19 के कठिन दौर से गुजरते समय प्रदेश के सम्मुख कई चुनौतियां आयीं, किन्तु प्रधानमंत्री जी के कुशल मार्गदर्शन व विजन के अनुरूप देश व प्रदेश सुरक्षित रहा। उनके द्वारा लिए गए निर्णयों के अनुरूप कोविड प्रबन्धन से प्रदेश में कोविड नियंत्रण में सफलता मिली।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि जे0ई0/ए0ई0एस0 के नियंत्रण के सम्बन्ध में किए गए कार्यों और अनुभवों का लाभ कोविड प्रबन्धन में मिला। कोविड प्रबन्धन व नियंत्रण के लिए प्रतिदिन राज्य और जनपद स्तर पर वरिष्ठ अधिकारियों की समीक्षा बैठकें हुईं। राज्य स्तर पर गठित की गई टीम ने अलग-अलग विभागों की जिम्मेदारी के स्तर पर सफलतापूर्वक कार्य किया। डोर स्टेप डिलेवरी, कोविड से सुरक्षा तथा लॉजिस्टिक्स के कार्य कोविड नियंत्रण में कारगर साबित हुए। कोविड प्रबन्धन में तकनीक का भी बेहतर उपयोग किया गया।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि जनपद स्तर पर इण्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कण्ट्रोल सेण्टर ने कोविड नियंत्रण व उपचार तथा अन्य व्यवस्थाओं में महत्वपूर्ण योगदान दिया। यह सेण्टर्स आज भी क्रियाशील हैं। वर्चुअल आई0सी0यू0 की कार्यवाही करते हुए टेलीमेडिसिन और टेलीकन्सल्टेशन के कार्य एस0जी0पी0जी0आई0, के0जी0एम0यू0, बी0एच0यू0 जैसे संस्थानों के विशेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा सम्पादित किए गए, जिनसे प्रदेश स्तर पर व्यापक पैमाने पर लोग लाभान्वित हुए।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कोविड नियंत्रण के साथ जनता के हितों की सुरक्षा का भी पूरा ध्यान रखा गया। लोगों की बुनियादी आवश्यकताओं की पूर्ति की गई। खाद्यान्न का वितरण किया गया। विभिन्न लाभार्थियों को उनके खाते में डी0बी0टी0 के माध्यम से आर्थिक सहायता व पेंशन धनराशि उपलब्ध करायी गई। 02 करोड़ 40 लाख से अधिक किसानों को ‘प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना’ से लाभान्वित किया गया। 54 लाख कामगार/श्रमिक, स्ट्रीट वेण्डर्स आदि को भरण-पोषण भत्ते का लाभ मिला।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कोविड-19 के दौरान राज्य सरकार द्वारा जनता की सेवा का बेहतरीन उदाहरण प्रस्तुत किया गया। यह पूरे देश में मानक बना। दूसरे प्रदेशों से आने वाले कामगारों/श्रमिकों तथा अन्य के प्रति भी राज्य सरकार द्वारा पूर्णरूपेण कर्तव्य का निर्वहन किया गया। 12,000 से अधिक छात्र-छात्राओं को लॉकडाउन के दौरान कोटा से उनके घर तक सुरक्षित पहुंचाया गया। इसी प्रकार प्रयागराज में हजारों की संख्या में रह रहे प्रतियोगी छात्र-छात्राओं को भी उनके घर तक सुरक्षित पहुंचाया गया। कामगारों/श्रमिकों के लिए सुरक्षा बीमा तथा स्वास्थ्य बीमा का कवर उपलब्ध कराया गया। कामगारों/श्रमिकों की सामाजिक एवं आर्थिक सुरक्षा तथा सर्वांगीण विकास के उद्देश्यों की प्राप्ति के लिए ‘उत्तर प्रदेश कामगार एवं श्रमिक (सेवायोजन एवं रोजगार) आयोग’ का गठन किया गया है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रदेश के युवाओं को विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता दिलाने के उद्देश्य से निःशुल्क कोचिंग हेतु ‘मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना’ संचालित की जा रही है। इस योजना के प्रति युवाओं में अत्यधिक उत्साह है। योजना के तहत पात्र छात्र-छात्राओं को टैबलेट उपलब्ध कराए जाएंगे। यह योजना प्रदेश के 18 मण्डलों में प्रारम्भ की जा चुकी है, जिसे जनपद स्तर पर भी लागू किया जाएगा।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि समाज की आधी आबादी महिलाओं व बालिकाओं की सुरक्षा, सम्मान, स्वावलम्बन तथा सशक्तिकरण के उद्देश्य से ‘मिशन शक्ति अभियान’ का प्रारम्भ शारदीय नवरात्रि से किया गया है। ‘अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस’ के अवसर पर 08 मार्च, 2021 से अभियान के दूसरे चरण का शुभारम्भ किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि थानों में महिला हेल्पडेस्क की स्थापना की गई है। ‘मिशन शक्ति अभियान’ के तहत जागरूकता के विभिन्न कार्यक्रम संचालित किए जा रहे हैं।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि अपराध व अपराधियों के सम्बन्ध में प्रदेश सरकार की जीरो टॉलरेंस नीति है। पेशेवर अपराधियों व माफियाओं के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जा रही है। कानून व्यवस्था के सम्बन्ध में उल्लेखनीय सुधार आया है। कानून के दायरे में रहकर राज्य सरकार अपराध और अपराधियों के विरुद्ध प्रभावी कार्यवाही कर रही है, जिससे प्रदेश के प्रति धारणा में सकारात्मक बदलाव आया है।
कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री जी ने पुस्तक ‘द रियल मोदी’ के हिन्दी, अंग्रेजी व गुजराती संस्करणों का विमोचन किया।

Related Articles

Stay Connected

22,042FansLike
2,952FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles