पुराना शहर अभी भी कुछ हद तक पुराना ही है लेकिन हरे कपड़े से नाकामी छिपा कर पुराने शहर को नया दिखाने की झूठी कोशिश बड़े ही अच्छे तरीके से की गई है।

लखनऊ

पुराना शहर अभी भी कुछ हद तक पुराना ही है लेकिन हरे कपड़े से नाकामी छिपा कर पुराने शहर को नया दिखाने की झूठी कोशिश बड़े ही अच्छे तरीके से की गई है।

तस्वीरें पुराने लखनऊ के हैदरगंज की है जहां आज होने जा रहे फ्लाईओवर के उदघाटन के दौरान माननीय रक्षा मंत्री भारत सरकार एवं मननीय सांसद श्री राजनाथ सिंह को पुराने शहर को दोबारा पुराना “न” दिखाने का सफल प्रयास किया गया हैं।

सांसद राजनाथ सिंह के ड्रीम प्रोजेक्ट में लखनऊ शहर को तीन नये फ़्लाईओवर की सौगात मिली है जिसमे से दो फ़्लाईओवर नाका और मिल एरिया पूर्ण रूप से चालू हो चुके है। उनमें से एक फ़्लाईओवर जो कि हैदरगंज से चौक फूलमंडी ढाई किलोमीटर तक जाता है उसका आज 31 अगस्त को उद्धघाटन माननीय सांसद श्री राजनाथ सिंह के हाथों से होना है। लेकिन नगर निगम और प्रशाशनिक अधिकारी अपनी नाकामी को छिपाने के लिए सड़क के किनारे हरे कपड़े से ढक दिया है जिससे कि टूटी हुई नालियां और फुटपाथ सांसद जी की नजरें देख न पाए। जबकि इस फ़्लाईओवर को बने हुए 1 महीने के करीब समय हो चुका है परंतु उसके बाद भी पर्याप्त समय होने के कारण भी लखनऊ नगर निगम ने अपना काम पूरा नही किया। और बल्लियों के सहारे हरे कपड़े को लगाकर टूटी हुई नालियों को छिपाने का भरसक प्रयास किया गया है।

Share News