उत्तर प्रदेश लखनऊ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य का वर्ष 2022-23 का बजट प्रदेश के सर्व-समावेशी एवं समग्र विकास के लिए है। यह राज्य के उज्ज्वल भविष्य की रूपरेखा भी तैयार करेगा। उन्होंने कहा कि यह बजट प्रदेश की 25 करोड़ जनता की आकांक्षाओं के अनुरूप प्रदेश के समग्र विकास, गांव, गरीब, किसान, नौजवान, महिलाओं, श्रमिक और समाज के सभी वर्गाें के उत्थान का माध्यम बनेगा।
मुख्यमंत्री यहां विधान सभा में वर्ष 2022-23 के बजट पर चर्चा में अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने कहा कि 26 मई, 2022 को वित्त मंत्री जी द्वारा प्रस्तुत बजट पर नेता प्रतिपक्ष सहित 124 सदस्यों ने अपने अमूल्य विचारों को रखा है। सत्ता पक्ष के 77 और विपक्ष के 49 सदस्यों ने अपने महत्वपूर्ण सुझावों के माध्यम से प्रदेश के विकास के लिए मिलकर काम करने के सम्बन्ध में चर्चा की और सुझाव दिए। कई वर्षों के बाद सदन में इतनी गंभीर चर्चा हुई है। इससे आमजन के मन में सदन की गरिमा और लोकतंत्र तथा जनप्रतिनिधियों के प्रति विश्वास बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का प्रयास होगा को सदस्यों की भावनाओं के अनुरूप नीतियों को लागू किया जाए।
मुख्यमंत्री ने कहा कि आज वे प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के अन्नदाता किसानों को पी0एम0 किसान योजना अंतर्गत 11वीं किस्त भेजने के एक कार्यक्रम में सम्मिलित हुए। इस योजना के माध्यम से प्रदेश के 2.55 करोड़ किसान लाभान्वित हुए।  इस योजना में किसानों प्रतिवर्ष 06 हजार रुपये की धनराशि उपलब्ध करायी जा रही है। उन्होंने कहा कि इस दौरान प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास, स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालय, सौभाग्य योजना के तहत निःशुल्क बिजली कनेक्शन, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत मुफ्त सिलेंडर दिया गया और कई योजनाओं से जनता को सीधा लाभ मिला है

Share News