सोशल मीडिया से बढ़ी रोजगार की संभावनाएं- डॉ दिग्विजय राठौर

उत्तर प्रदेश लखनऊ

सोशल मीडिया से बढ़ी रोजगार की संभावनाएं- डॉ दिग्विजय राठौर ख्वाजा मुईनुद्दीन चिश्ती भाषा विश्वविद्यालय के अवध इनक्यूबेशन फाउंडेशन द्वारा मंगलवार को अटल हाल में सोशल मीडिया एवं उद्यमिता विषय पर विशेष व्याख्यान का आयोजन किया गया।

बतौर वक्ता वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय जनसंचार विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. दिग्विजय सिंह राठौर ने कहा कि सोशल मीडिया ने रोजगार की अपार संभावनाओं को जन्म दिया है। सोशल मीडिया एक्सपर्ट की सहायता से क्षेत्रीय स्तर के उत्पाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्थापित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज के दौर में अगर आपको अपने व्यवसाय को लोकप्रिय बनाना है तो सोशल मीडिया एक्सपर्ट की सहायता लेनी होगी।
उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया की सर्विस उपलब्ध कराने वाली संस्थाएं मात्र कंटेंट ही नहीं निर्मित करती बल्कि वह बेहतर योजनाबद्ध तरीके से व्यवसाय को आगे बढ़ाने में सहायता करती हैं। आज प्रबंधन, कंप्यूटर प्रोग्रामिंग, वेब डिजाइनर, फोटोग्राफर, वीडियोग्राफर, वीडियो एडिटर के लिए भी इस क्षेत्र में रोजगार के नए अवसर है। उन्होंने कहा कि आज युवा कम लागत में सोशल मीडिया सर्विस के स्टार्टअप शुरू करके आर्थिक रूप से संपन्न बन सकते हैं। अवध इनक्यूबेशन सेंटर के अध्यक्ष प्रो सैयद हैदर अली ने अपने व्याखान में शिक्षा के साथ साथ इंटरप्रेन्योरशिप को बढ़ावा देने के विषय पर जोर देते हुए बताया की शिक्षा, स्किल एवं इंप्लीमेंटेशन पर काम करने की आवश्यकता है।

डॉ रूचिता सुजय चौधरी, चीफ आपोरेटिंग आफ़िसर (सीओओ) अवध इनक्यूबेशन सेंटर ने सभी अतिथियों को धन्यवाद दिया। पत्रकारिता विभाग की छात्रा शिफा ने कार्यक्रम का संचालन किया। कार्यक्रम में प्रो मसूद आलम फलाही, प्रो चांदना डे, प्रो एहतेशाम अहमद, प्रो तनवीर खदीजा, प्रो तथीर, प्रो फखरे आलम, डॉ आज़म अंसारी सहित बड़ी संख्या में छात्र छात्राएं मौजूद रहे।

Share News