ज्योति को बनाया हवस का शिकार फिर कर दी उसकी हत्या

देश

ज्योति पासवान जी हां ये वो नाम है जो आज से महज़ 3 महीने पहले लॉकडाउन में अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प की बेटी इवांका के ट्विटर हैंडल पर चमका था और अपने बीमार पिता को गुरुग्राम से लेकर लगभग 1200 किलोमीटर दरभंगा बिहार तक साइकिल चलाकर पहुँची थी।

पूरा मीडिया, आईटी सेल उसके पीछे लगा उस की वाह वाही चल रही थी। #सांसद, #विधायकों का तो मानो पूरा मजमा लग गया था। उस बच्ची के पीछे, हर कोई उसे अपने #पार्टीकेझंडे के नीचे लाना चाहते थे और उसका कारनामा भी काबिले तारीफ़ था। #सरकार की सबसे बड़ी विफलता में उसने अपने जीवन की सबसे बड़ी सफलता हासिल की थी

आज किसी #रिटायर्डफ़ौजीअर्जुनमिश्रा के हवस की शिकार हुई 15 साल की ज्योतिपासवान क्यों? क्योंकि ज्योति उस अर्जुन मिश्रा के बगीचे में आम चुनने के लिए गई थी और ये बात एक सामंतवादी दिमाग़ को इतना ठेस पहुंचा गया कि उस अर्जुन मिश्रा ने अपने पत्नी के सामने ही पहले उस 15 साल की बच्ची के साथ उल्टा सीधा किया और फिर #हसिए से गले को #रेत दिया

आज कल तो हमारे देश की #महान_मीडिया अब कुछ दिन बस #लेह और #लद्दाख के ट्रिप पर ही रहेंगी!

JusticeforJyoti

Justice_for_jyoti

Leave a Reply

Your email address will not be published.