BREAKING शाहीन बाग प्रदर्शन पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, लोकतंत्र सबके लिए, प्रदर्शन से परेशानी ना हो: SC

BREAKING
शाहीन बाग प्रदर्शन पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, लोकतंत्र सबके लिए,
प्रदर्शन से परेशानी ना हो: SC

हर कोई सड़क पर उतरेगा तो क्या होगा?: SC

नागरिकता संशोधन एक्ट (CAA) के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग़ में चल रहा 2 महीने से प्रदर्शन——

इस मामले की सुनवाई जस्टिस संजय कौशल, जस्टिस के.एम. जोसेफ की बेंच कर रही है.

अदालत ने कहा है कि लोकतंत्र हर किसी के लिए, ऐसे में विरोध के नाम पर सड़क जाम नहीं कर सकते हैं. इस मसले पर अब अगले सोमवार 24 फरवरी को सुनवाई होगी.

शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों से बात करने के लिए अदालत ने वार्ताकार नियुक्त किया है. वरिष्ठ वकील संजय हेगड़े के साथ वकील साधना रामचंद्रन को वार्ताकार के तौर पर नियुक्त किया है. इसके साथ ही वजाहत हबीबुल्लाह, चंद्रशेखर आजाद इस दौरान वार्ताकारों की मदद करेंगे.

सुप्रीम कोर्ट की ओर से कहा गया कि हमारी चिंता सीमित है, अगर हर कोई सड़क पर उतरने लगेगा तो क्या होगा?

सुप्रीम कोर्ट ने अब इस मामले में दिल्ली पुलिस के कमिश्नर को हलफनामा दायर करने को कहा है.

सुप्रीम कोर्ट ने वकील संजय हेगड़े को शाहीन बाग प्रदर्शनकारियों से बात करने के लिए कहा गया है. इस दौरान संजय हेगड़े ने अपील करते हुए कहा कि उनके साथ रिटायर्ड जस्टिस कुरियन जोसेफ को उनके साथ भेज सकते हैं. संजय हेगड़े की ओर से सॉलिसिटर जनरल से पुलिस प्रोटेक्शन की अपील की.

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि पिछले 64 दिन से प्रदर्शन जारी है, लेकिन आप उन्हें हटा नहीं पाए.

अब बातचीत से हल नहीं निकलता है तो हम अथॉरिटी को एक्शन के लिए खुली छूट देंगे.

अदालत ने दिल्ली सरकार, दिल्ली पुलिस और केंद्र सरकार से प्रदर्शनकारियों को हटाने के ऑप्शन पर चर्चा करने और उनसे बात करने को कहा है.

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *