मुख्यमंत्री ने ‘एकल अभियान’ संगठन द्वारा आयोजित परिवर्तन कुम्भ-2020 को सम्बोधित किया

मुख्यमंत्री ने ‘एकल अभियान’ संगठन द्वारा आयोजित

परिवर्तन कुम्भ-2020 को सम्बोधित किया

‘एकल अभियान’ सेवा व शिक्षा के 

क्षेत्र में निःस्वार्थ भाव से कार्य कर रहा है

प्रधानमंत्री जी के प्रयासों से देश में एक बड़ा बदलाव आया है 

शासन की योजनाओं का लाभ प्रत्येक जरूरतमंद को प्राप्त हो 

रहा है, जो रामराज्य की परिकल्पना को मूर्त रूप देने का प्रयास है

15 करोड़ नौजवानों को आर्थिक स्वावलम्बन तथा 46 करोड़ 

गरीब परिवारों को जनधन खाते के माध्यम से जोड़ा गया है 

50 करोड़ गरीब परिवार के लोगों को आयुष्मान भारत 

योजना के माध्यम से स्वास्थ्य बीमा कवर प्रदान किया गया है

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने स्पष्ट विजन दिया, 

जिसे समाज का प्रत्येक व्यक्ति स्वीकार कर रहा

आजादी से लेकर वर्ष 2016 तक प्रदेश में केवल 12 मेडिकल 

काॅलेज थे, वहीं मात्र तीन वर्षों में सरकार के सकारात्मक 

प्रयास से 28 नए मेडिकल काॅलेज बन रहे हैं

शिक्षकों की उपस्थित सुनिश्चित करने के लिए 

01 लाख 58 हजार स्कूलों को ‘प्रेरणा एप’ से जोड़ा गया

भगवान श्रीराम के मन्दिर का निर्माण देश की आस्था के 

साथ देश के वनवासी जीवन को मान्यता देने का काम भी है

मुख्यमंत्री की उपस्थिति में ‘एकल अभियान’ संगठन तथा ‘ए0के0टी0यू0’ के बीच तकनीकी शिक्षा को लेकर एक 

एम0ओ0यू0 का आदान-प्रदान हुआ

मुख्यमंत्री ने ‘एकल अभियान’ पुस्तक का विमोचन किया

लखनऊ: 17 फरवरी, 2020

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि श्रद्धेय अशोक सिंघल जी ने जिस एकल अभियान का बीजारोपण किया था आज वह प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की भावनाओं के अनुरूप 01 लाख की संख्या को पार कर सेवा व शिक्षा के क्षेत्र में निःस्वार्थ भाव से कार्य कर रहा है। एकल अभियान इस बात को साबित करता है कि भारत में सेवा किसी सौदे का माध्यम नहीं है, बल्कि यह हमारे संस्कारों के माध्यम से सनातन परम्परा से प्राप्त हमारे अन्तःकरण के अनुभवों को देश के सामने लाने के क्रार्यक्रम की श्रृंखला का हिस्सा है।
मुख्यमंत्री जी आज यहां ‘एकल अभियान’ संगठन द्वारा आयोजित परिवर्तन कुम्भ-2020 को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि ‘एकल अभियान’ मातृभूमि के प्रति समर्पित होकर कार्य कर रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी ने कहा था कि देश की योजनाओं का लाभ किसी व्यक्ति, परिवार, जाति, भाषा को देखकर कभी नहीं, बल्कि गांव, गरीब, दलित, महिलाओं व समाज के प्रत्येक वर्ग को मिलना चाहिए। प्रधानमंत्री जी ने वनवासी क्षेत्र के विकास के लिए जनजातीय मंत्रालय का गठन किया, जिससे वनवासी क्षेत्रों के विकास को नई गति प्राप्त हुई है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी के प्रयासों से देश में एक बड़ा बदलाव आया है। शासन की योजनाओं का लाभ प्रत्येक जरूरतमंद को प्राप्त हो रहा है, जो रामराज्य की परिकल्पना को मूर्त रूप देने का प्रयास है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि वर्तमान सरकार ने 2.5 करोड़ गरीब परिवारों को आवास, 04 करोड़ गरीब परिवारों को निःशुल्क विद्युत कनेक्शन, 08 करोड़ परिवारों को निःशुल्क रसोई गैस कनेक्शन, 10.50 करोड़ गरीब परिवारों को शौचालय, 12.50 करोड़ गरीब किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के माध्यम से 06 हजार रुपये प्रतिवर्ष उपलब्ध कराए जा रहे हैं। 15 करोड़ नौजवानों को आर्थिक स्वावलम्बन तथा 46 करोड़ गरीब परिवारों को जनधन खाते के माध्यम से जोड़ा गया है। 50 करोड़ गरीब परिवार के लोगों को आयुष्मान भारत योजना के माध्यम से स्वास्थ्य बीमा कवर प्रदान किया गया है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि पूर्ववर्ती सरकारों में देश के विकास के प्रति विजन का अभाव था। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने स्पष्ट विजन दिया, जिसे समाज का प्रत्येक व्यक्ति स्वीकार कर रहा है। उन्होंने कहा कि आजादी से लेकर वर्ष 2016 तक प्रदेश में मात्र 12 मेडिकल काॅलेज थे, वहीं केवल तीन वर्षों में सरकार के सकारात्मक प्रयास से 28 नए मेडिकल काॅलेज बन रहे हैं। उन्होंने कहा कि ‘स्कूल चलो अभियान’ राज्य सरकार का एक वृहद अभियान है, जिसमें पिछले तीन वर्षाें में 50 लाख विद्यार्थियों को पंजीकृत किया गया है। वर्तमान मंे 01 करोड़ 80 लाख विद्यार्थी शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं। बेसिक शिक्षा परिषद के पाठ्यक्रम को एन0सी0ई0आर0टी0 के तर्ज पर अपनया गया है। उन्होंने कहा कि इन विद्यार्थियों को दो स्कूल यूनिफार्म, स्कूल बैग, जूते, मोजे स्वेटर तथा अच्छा मिड-डे मील उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि शिक्षकों की उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए 01 लाख 58 हजार स्कूलों को ‘प्रेरणा एप’ से जोड़ा गया है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि अयोध्या में भगवान श्रीराम का भव्य मन्दिर निर्माण का कार्य प्रशस्त हो गया है। प्रभु श्रीराम के मन्दिर का निर्माण देश की आस्था के साथ देश के वनवासी जीवन को मान्यता देने का काम भी है। उन्होंने कहा कि हजारों वर्ष पूर्व भगवान श्रीराम ने वनवासी समाज को मान्यता दी थी। आज यही कार्य प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी कर रहे हैं।
इससे पूर्व, मुख्यमंत्री जी की उपस्थिति में ‘एकल अभियान’ संगठन तथा ‘ए0के0टी0यू0’ के बीच तकनीकी शिक्षा के सम्बन्ध में एक एम0ओ0यू0 का आदान-प्रदान हुआ। इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी ने ‘एकल अभियान’ पुस्तक का विमोचन किया।
मुख्यमंत्री जी ने ‘एकल अभियान’ संगठन से जुड़े प्रतिभागियों को प्रशस्ति-पत्र भेंटकर सम्मानित किया।

इस अवसर पर सामाजिक कार्यकर्ता श्री विजय शंकर मेहता, श्री राजकुमार लोहिया सहित अनेक गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *