पुराने लखनऊ मे तड़तड़ाई गोलिया

पुराने लखनऊ मे तड़तड़ाई गोलिया एक की हत्या कर बदमाशो ने लूटा बैग

पुराने लखनऊ के चाौक थाना क्षेत्र मे दिन दिहाड़े हुई सनसनी खेज़ घटना

गोलिया चलाते हुए भागे बदमाश एक कबूतर की भी हुई मौत

पुलिस कमिश्नर पहुॅचे मौके पर जाॅच मे जुटी पुलिस

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ मे अयुक्त प्रणाली लागू हुए एक महीने से ज़्यादा का समय बीत गया लेकिन शहर मे अपराध की बड़ी घटनाओ को रोक पाने मे कमिश्नर प्रणाली भी नाकाम साबित हो रही है। पुलिस से बेखौफ दो मोटर साईकिलो पर सवार चार नकाब पोश बदमाशो ने पुराने लखनऊ के भीड़भाड़ वाले चाौक थाना क्षेत्र के नेहरू क्रास के पास दिन दुपहरे लबे सड़क पान मसाले के डिस्ट्रीब्यूटर की दुकान मे घुस कर गोलिया चलाई और नोटो से भरा बैग लूट कर गोली चलाते हुए फरार हो गए । दुकान के अन्दर चली गोली मे दुकान मे काम करने वाला 45 वर्षीय दुकान के नौकर की मौत हो गई जबकि बदमाशो द्वारा भागते हुए चलाई गई गोली से एक बेज़ुबान कबूतर भी मौत की नींद सो गया। दिन दुपहरे भीड़भाड़ वाले इलाके मे लूट और हत्या की घटना को अन्जाम देकर दो मोटर साईकिलों पर सवार चार बदमाश गोलियां चलाते हुए शास्त्री नगर की तरफ भाग गए।

पुराने लखनऊ मे हुई इस सनसनी खेज़ घटना की सूचना पाकर पुलिस कमिश्नर सुजीत पाडेण्य , ज्वाईन्ट कमिश्नर क्राईम निलाम्जा चाौधरी ज्वाईन्ट कमिश्नर ला एन्ड अर्डर नवीन अरोड़ा , डीसीपी पश्चिम आरके श्रीवास्तव,, डीसीपी क्राईम पीके तिवारी एडीसीपी पश्चिम विकास चन्द्र त्रिपाठी , एसीपी चाौक दुर्गा प्रसाद तिवारी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुॅचे और अपने मातहत अधिकारियो को बदमाशो की गिरफ्तारी के लिए दिशा निर्देश दिए। मौके पर फोरेन्सिक टीम को भी बुलाया गया। घटना स्थल के आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरो मे पुलिस बदमाशो की पहचान करने का प्रयास कर रही है। घटना के बाद शहर मे नाकेबन्दी कर बदमाशो की गिरफ्तार की कोशिशे तेज़ कर दी गई लेकिन बदमाश पुलिस के हत्थे नही चढ़े । भीड़भाड़ वाले इलाके मे व्यापारी के साथ हुई इस सनसनी खेज़ घटना के बाद व्यापारियो मे आक्रोष है।

जानकारी के अनुसार तिलक नगर नाका मे रहने वाले रामनिवास अग्रवाल लखनऊ मे कमला पसन्द पान मसाले के डिस्ट्रीब्यूटर है इसके अलावा उनका डली कत्थे का बड़ा कारोबार है उनकी एक दुकान चाौक थाना क्षेत्र के नहरू क्रास पर भी है जहंा उनके दो बेटे सुनील और समीर बैठते है। गुरूवार को बाज़ार की बन्दी का दिन होता है लेकिन नेहरू क्रास स्थित उनकी दुकान गुरूवार होने के बावजूद खुली हुई थी दोपहर एक बजे से दो बजे के बीच दो मोटर साईकिल पर सवार चार बदमाशा आए दो हेलमेट लगाए हुए थे और दो अपने मुंह को रूमाल से ढके हुए थे । मोटर साईकिलो पर पीछे बैठे बदमाशा उनकी दुकान मे दाखिल हुए और दुकान के तख्त पर रखा बैग उठाने लगे तो उनकी दुकान पर मौजूद 45 वर्षीय सुभाष नामक उनके नौकर ने बदमाशो से बैग छीनने का प्रयास किया तो एक बदमाश ने उसके सीने पर गोली मार दी और सुभाष से बैग लूट कर बाहर स्टार्ट खड़ी मोटर साईकिलों पर सवार होकर भागने लगे चीख सुन की सड़क पर लोगो ने बदमाशे का पीछा किया तो बदमाश हवा मे गोलिया चला कर भागने लगे हवा मे चल रही एक गोली एक इमारत पर बैठे बेजु़बान कबूतर को लगी और उसकी भी मौत हो गई। बदमाशा वारदात को अन्जाम देकर आराम से फरार हो गए। भीड़भाड़ वाले क्षेत्र मे हुई लूट और हत्या की सनसनी खेज़ घटना के बाद पुलिस कमिश्नर सुजीत पाडेण्य भी मौके पर पहुॅचे। कमिश्नर सुजीत पाडेण्य का कहना है कि दो मोटर साईकिलो पर सवार चार बदमाशो द्वारा घटना को अन्जाम दिए जाने की बात सामने आई है उन्होने बताया कि बदमाश बैग लूट कर ले गए है उन्होने ये नही बताया कि बैग मे कितना कैश था पुलिस कमिश्नर सुजीत पाडेण्य ने अपने मातहत अधिकारियो को बदमाशो की गिरफ्तारी जल्द करने के आदेश दिए है। मौके पर पहुॅचे पुलिस के अधिकारियो को घटना के चश्मदीद गवाह एक युवक ने पूरे घटना क्रम से अवगत कराया ये युवक पास की ही एक दुकान मे काम करता है और जिस समय बदमाशो द्वारा इस सनसनी खेज़ घटना को अन्जाम दिया गया उस समय वो युवक इत्तेफाक से अपनी दुकान के बाहर ही खड़ा हुआ था हालाकि घटना स्थल बिलकुल लबे सड़क है ऐसे हालात मे घटना के चश्मदीद गवाह और भी होगे लेकिन फिलहाल इस युवक ने सामने आकर पुलिस के अधिकारियो को पूरे घटना क्रम से अवगत कराया। पुलिस के लिए पुराने लखनऊ के भीड़भाड़ वाले इलाके मे हुई ये सनसनी खेज़ घटना बिलकुल उसी तरह की चुनौती है जैसे चार वर्ष पूर्व मोटर साईकिल सवार दो बदमाशो द्वारा हसनगंज के बाबूगंज मे लबे सड़क एटीएम के बाहर खड़ी कैश वैन के तीन कर्मचारियो की हत्या कर 50 लाख रूपए की लूट की घटना को अन्जाम दिया गया था हालाकि वो घटना आज भी पुलिस के लिए पहेली ही बनी हुई है । वो घटना भी दिन दिहाड़े लबे सड़क भीड़भाड़ वाले स्थान पर हुई थी और ये घटना भी बिलकुल उसी तरह की घटना हुई है अब देखना ये है कि पुराने शहर मे दहशत का प्रर्याय बने इन चार बदमाशो तक पुलिस के हाथ कब तक पहुॅचते है। हालाकि इसी सप्ताप पुलिस कमिश्नर सुजीत पाडेण्य द्वारा व्यापारियो की सुरक्षा के लिए व्यापारियो के साथ एक बैठक भी की गई थी।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *